भारत में अनुसूचित जनजाति Scheduled Tribes in India hindi

Scheduled Tribes in India hindi भारत में अनुसूचित जनजाति

  • जनजातीय विकास विभाग भारत सरकार के अनुसार भारत में 550 अनुसूचित जनजाति समुदाय पाए जाते हैं।
  • जनगणना वर्ष 2011 के अनुसार भारत में अनुसूचित जनजातियों का प्रतिशत कुल जनसँख्या का 8.6% हैं।
  • राज्य की कुल जनसँख्या में जनजाति जनसँख्या का सर्वाधिक अनुपात मिजोरम (94%) तथा केंद्रशासित प्रदेशों में लक्षद्वीप में (94.8 %) हैं। जबकि जनसँख्या सर्वाधिक मध्य प्रदेश में हैं।
  • हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, पंजाब एवं पांडिचेरी ऐसे राज्य या केंद्रशासित प्रदेश हैं जहाँ अनुसूचित जनजातियों की संख्या शून्य हैं।
  • अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मेघालय एवं दादर नगर हवेली ऐसे राज्य हैं जहाँ पर इनकी जनसँख्या कुल जनसँख्या का 60 प्रतिशत से अधिक हैं।
  • अनुसूचित जनजाति जनसँख्या का राज्य वार घटता हुआ क्रम –मध्य प्रदेश > महाराष्ट्र >ओडिसा > राजस्थान  
  • भारत में सर्वाधिक जनजातीय जनसँख्या गौड़ है तथा उसके बाद दूसरे स्थान पर संथाल हैं।
  • संथाली लोग पुजारी को नायक कहते हैं।

जनजतियों के बारे में कुछ रोचक तथ्य

  • दीपावली को शोक त्यौहार के रूप में मनाने वाली जनजाति -थारू 
  • नायर जनजाति में visiting husband की अवधारणा पाई जाती हैं।
  • नीलगिरि की पहाड़ियां में निवास करने वाली सबसे प्रमुख जनजाति टोडा हैं। जोकि एक पशु पालक जनजाति हैं और भैस पालने का कार्य करती हैं।
  • जनजातियों के शैक्षणिक संस्था को युवा गृह कहा जाता हैं।
  • नाच गाकर अपना जीवन व्यतीत करने वाली जनजाति गरासिया हैं जोकि दक्षिण राजस्थान की एक प्रमुख जनजाति हैं।
  • सरहूल आदिवासियों का एक प्रमुख त्योहर हैं जो कि चैत्र शुक्त की तृतीया को मनाया जाता हैं। ल
  • लद्दाख में पाए जाने वाली चंपा जनजाति पश्मीना उन देने वाले भेड़ों का पालन करती है।  यह एक घुमन्तु जनजति हैं।
  • नागा जनजाति का एक प्रमुख त्यौहार मिथन हैं।
  • शोम्पेन जनजाति निकोबार द्वीप समूह में पाई जाती हैं।
  • हो, उराव एवं मुंडा जनजातियों में धार्मिक पुरुष को पाहन, छत्तीसगढ़ के गौंड उन्हें वैगा, और केरल के कन्निकार एवं यूराली उन्हें प्लाथी कहते हैं।
देश में पाए जाने वाली प्रमुख जनजातियां 
राज्य  जनजातियां 
उत्तराखंड  थारू,भोटिया, कोय, मारा, नीति, खास
हिमाचल  गड्डी, कनोरा, लाहौली
जम्मू कश्मीर  बक्कवाल, गद्दी, गुज्जर
मध्य प्रदेश  भील, बंजारा, गौड़, वैगा, कौल, मुंडा, खेरवार असुर,
महाराष्ट्र  गौड़, कोली, बंजारा, चितपावन, बारली, अबुफंडियां
राजस्थान  मीणा, भील, बंजारा, कोली सांसी, गरासिया
पचिमी बंगाल  लोघा, भूमिज, संथाल,लेपचा, लिम्बु
आंध्र प्रदेश  चेन्चुस, गौंड, कोढस सवारा,
मेघालय  गारो, खासी, जयतियाँ, मिकिर
मिजोरम  चकमा, मिज़ो, पावों, लाखर,लुशाई, कुकी
नागालैंड  नागा, आगामी, मिकिर
सिक्किम  लेपचा, लिम्बु
त्रिपुरा  रियांग
केरल  मोपला, कादर, उराली, इरुला, पनियान
मणिपुर  नगा, कुकी, मैठी, अंगामी
असम  नागा, लुसाई, राभा, दिमारा,वोडो, कोछारी, मिकिर, कार्बो
अरुणाचल प्रदेश  मोंपा, दबला, सुलुंग, मिश्मी, मिन्योंग, मेजी
तमिलनाडु  टोडा, बड़गा, तोड़कोटा
उड़ीसा  जुआंग, खारिया, भुइया, संथाल, हो, भील, कोल,ओराव, गोड़, सोंड
झारखंड  संथाल, मुंडा, हो, ओरांव, बिरहोर, कोरबा, असुर, भुइयां, गोंड, सीरिया, भूमिज
लक्षद्वीप  वासी
अंडमान -निकोबार  ओजे, जारवा, सैंटलीज, अंडमानी, निकोबारी

Share:

नई पोस्ट

टॉपिक चुने

error: Content is protected !!